Kislay Pandey ने किसी और के नाम से लिया था फ्लैट, खुलासे के बाद से अब तक अता-पता नहीं| Hindi News, देश

नई दिल्ली: दिल्ली के पास ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में हुई ‘अजीब चोरी’ (Theft) वाले फ्लैट को पुलिस ने ढूंढ लिया है. पुलिस के मुताबिक यह फ्लैट किसलय पांडे (Kislay Pandey) ने किसी और नाम से किराए पर लिया था. लेकिन उसका अब तक कहीं अता-पता नहीं है.

सिल्वर सिटी सोसायटी में हुई थी चोरी

पुलिस के मुताबिक ग्रेटर नोएडा की सिल्वर सिटी सोसायटी में कई महीने पहले एक फ्लैट से 40 किलो सोने और साढ़े 6 करोड़ रुपये चोरी हुए थे. इस सारे माल की कीमत करीब 30 करोड़ रुपये थी. इस मामले में आरोपी चोर पकड़ लिए गए और उनसे करोड़ों रुपये का माल भी बरामद हो गया. हैरत की बात ये है कि करोड़ों रुपये की चोरी होने के बावजूद आज तक किसी ने पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज नहीं करवाई है.

बाप-बेटे पर कई केस दर्ज

पुलिस के मुताबिक ये फ्लैट किसलय पांडे (Kislay Pandey) ने किसी और नाम से किराए पर लिया था. उसका अब तक कुछ नहीं है कि वह कहां है. किसलय पांडे और उसके पिता राममणि पांडे पर दिल्ली और एनसीआर में करोड़ो रुपये की ठगी के मामले दर्ज हैं. पुलिस के अनुसार किसलय खुद को सुप्रीम कोर्ट का वकील बताता है. हालांकि जांच में पता चला है कि उसकी डिग्री ही फर्जी है. ऐसे में वह सुप्रीम कोर्ट तो क्या किसी भी कोर्ट का वकील नहीं हो सकता. 

किसलय पांडे ने आज ट्विटर पर एक बयान जारी कर नोएडा पुलिस की जांच में साथ देने की बात कही है. उसने दावा किया कि उसकी लड़ाई उनसे है, जो देश को ठग रहे हैं.

10 चोरों ने वारदात को अंजाम

बताते चलें कि नवंबर, 2020 में नोएडा में 10 चोरों ने मिलकर एक पॉश सोसायटी के फ्लैट में अब तक की सबसे बड़ी चोरी की वारदात को अंजाम दिया था. फ्लैट से करोड़ों रुपये का सोना, कैश, सोने के बिस्किट और 2 प्रॉपर्टी के कागज चोरी (Theft) किए गए थे. तब से लेकर आज तक पुलिस में किसी ने इस चोरी की वारदात की शिकायत नहीं की.

ये भी पढ़ें- Noida में हुई ‘ग्रेट रॉबरी’ के चोर चढ़े Police के हत्थे, लेकिन ‘खजाने’ के मालिक की तलाश जारी

भनक लगने पर पुलिस हुई सक्रिय

इस मामले में बंटवारे को लेकर चोरों (Theft) में अनबन हुई तो मामले की भनक पुलिस तक पहुंची. जिसके बाद पुलिस ने 6 चोरों को गिरफ्तार कर उनके पास से 57 लाख रुपये कैश और करीब 14 किलो सोना बरामद कर लिया. इसके बावजूद बरामद हुए माल पर दावा करने वाला कोई नहीं है. पुलिस को शक है कि यह ब्लैकमनी थी. जिसे फ्लैट में छिपाकर रखा गया था. उन चोरों को इसकी भनक लग गई और उन्होंने वहां सेंध लगा दी.

LIVE TV



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *