साल का आखिरी शुभ मुहूर्त: प्रॉपर्टी खरीदी और नए काम की शुरुआत के लिए 31 दिसंबर को बन रहे हैं शुभ-संयोग

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • अंग्रेजी कैलेंडर में साल का आखिरी दिन है 31 दिसंबर, लेकिन हिंदू पंचांग के मुताबिक इस दिन होगी दसवें महीने की शुरुआत

इस साल के आखिरी दिन 31 दिसंबर को गुरुवार का होना पंडितों ने शुभ माना है, बल्कि संयोगवश इस दिन सर्वार्थसिद्धि, अमृतसिद्धि योग के साथ ही पुष्य नक्षत्र भी रहेगा। इन तीनों योगों के रहते की गई खरीदारी से समृद्धि बढ़ेगी। काशी के ज्योतिषाचार्य पं. गणेश मिश्र ने बताया कि 31 दिसंबर को प्रॉपर्टी और खास चीजों की खरीदारी करने के लिए शुभ मुहूर्त है। साथ ही नए काम की शुरुआत करने के लिए भी ये दिन शुभ रहेगा।

पं. मिश्र बताते हैं कि सर्वार्थसिद्धि योग सूर्योदय से शुरू होकर अगले दिन सूर्योदय तक रहेगा। जबकि अमृतसिद्धि योग दोपहर में शुरू होकर अगले दिन तक रहेगा। इसी शाम करीब 7.20 पर पुष्य नक्षत्र का संयोग भी बन जाएगा। यह गुरु पुष्य योग कहलाएगा। इस दिन खरीदारी करने से समृद्धि बढ़ती है और फायदा मिलता है।

पुनर्वसु नक्षत्र और ग्रहों का शुभ संयोग
31 दिसंबर, गुरुवार को पुनर्वसु नक्षत्र होने से सिद्धि योग दिनभर रहेगा। इस दौरान किए गए शुभ कामों में सफलता मिलेगी। ग्रहों की शुभ स्थिति से इंद्र योग भी दिनभर रहेगा। वहीं धनु राशि में सूर्य और बुध ग्रह के होने से बुधादित्य शुभ संयोग बन रहा है। सितारों की इस शुभ स्थिति में किए गए लेन-देन और निवेश फायदेमंद साबित होते हैं।

पौष महीने की शुरुआत
31 दिसंबर को शुभ योगों में ही हिंदी महीने पौष की शुरुआत हो रही है। साल के आखिरी दिन ही हिंदू कैलेंडर के दसवें महीने की शुरुआत हो रही है। इसी महीने में खरमास खत्म होता है। उत्तरायण शुरू होता है। मकर संक्रांति और मौनी अमावस्या जैसे महत्वपूर्ण पर्व भी पौष महीने के दौरान आते हैं। इस हिंदी महीने में भगवान सूर्य की विशेष उपासना करने की परंपरा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *